सरकारी नौकरी

गर्भवती महिलाएं इन बातों का रखें ध्यान वरना हो सकता है गर्भपात


एक वैवाहिक जीवन में हर स्त्री की इच्छा होती है कि वह भी माँ बने लेकिन कभी-कभी देखा गया है कि कुछ स्त्रीयों के ग्रहों कि दशा ठीक न हो पाने के कारण उन्हें कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है और इन्ही परेशानियों कि वजह से उन्हें कई प्रकार कि बीमारियाँ घेर लेती है और कई बार गर्भपात भी हो जाता है। 

प्रेग्नेंसी में इन बातों का रखें ध्यान:

# यदि चन्द्रमा पाप गृह के प्रभाव में हो या बलहीन हो या द्वादश, अष्टम अथवा छठे भाव में हो तो स्त्री पर नकारात्मक ऊर्जा हावी रहती है और इस कारण उनके मानसिक संतुलन पर बुरा असर पड़ता है। 

# यदि चंद्रमा क्रूर और पाप ग्रहों जैसे शनि, मंगल, राहू या केतु से पीड़ित हो रहा हो तो स्त्री को पीरियड्स जैसी परेशानिया हो सकती है जिससे उनके गर्भपात में कई समस्याएं आती है।

# यदि स्त्री कि कुंडली में पंचम भाव पर पाप और क्रूर ग्रहों की द्रष्टि और ग्रहों युति पर ध्यान देना चाहिए, यदि पांचवे भाव पर सूर्य, शनि, राहू, और केतु हो तो ऐसी स्थिति में स्त्री को गर्भ धारण में समस्या आ सकती है।

No comments