सरकारी नौकरी

ऑनलाइन रेप के आरोप में अपराधी को मिली सजा, कैसे बनाता था सम्बन्ध!


आज दुनियाभर में आधुनिक प्रगति का दौर चल है लेकिन इन सबके बावजूद भी क्राइम रेट दिन प्रतिदिन बढता जा रहा है खासतौर पर यौन शोषण के अपराध जिनसे बच्चे तक सुरक्षित नही है। अब तक माता पिता यौन शोषण से बचने के लिए अपने बच्चों को घर से रात को न निकलने की सलाह देते है, किसी अनजान से बात न करने की।

ऑनलाइन रेप: 

अगर कोई आपको टच नही कर सकता तो वो कुछ भी करे य़ौन शोषण नही है । पर क्या आपको नही लगता ये गलत है । मानसिक तनाव देकर संबंध बनाने के लिए मजबूर करना या फिर किसी का अश्लील वीडियो बनाना भी क्या य़ौन शोषण नही है । ब्लैक मेंल करके होने वाले अपराध आजकल तेजी से बढ रहे है।

ऑनलाइन शोषण के कारण मिली सजा:

सोशल मीडिया पर लोग पहले अच्छे से दोस्ती करते है और इसके बाद उनके साथ रिलेशन बनाने की कोशिश करते है उनसे उनकी प्रावेट तस्वीरें मांगते है। और जो दे देते है उन्हे बाद में ब्लैकमेल करते है। ऐसे लोगो के झांसे में नाबालिग बच्चे ज्यादा फंसते है। लेकिन अब तक ऐसे केस में यौन शोषण की सजा नही सुनाई जाती थी जिस वजह से अक्सर अपराधी बच जाते थे। लेकिन पहली बार किसी अपराधी को ऑनलाइन रेप केस में सजा सुनाई गई है।

27 नाबलिग बच्चों के साथ किया ऑनलाइन रेप:

बच्चे उसे खुश करने के लिए यौन क्रियाएं करने लगते है। इस अपराधी ने अब तक ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा, स्वीडन के कई बच्चो को अपना शिकार बनाया है। इस बात को खुद अपराधी ने स्वीकार है कि उसने 2015 से 2017 के दौरान इन देशो के कुल 27 नाबलिग बच्चों के साथ ये अपराध किया।  हालाकि अपराधी के वकील का कहना है कि इस केस में यौन शोषण की सजा नही होनी चाहिए थी।

No comments