सरकारी नौकरी

मुस्लिम धर्म के लोग क्यों नहीं खाते सूअर का मांस??


हर धर्म के अपने कुछ नियम है। भारत में कई धर्म के लोग  निवास करते है सभी धर्मों के अपने कुछ नियम व शर्ते है। आज हम बात करते है मुस्लिम धर्म की शायद आप जानते होंगे की मुस्लिम धर्म के लोग सूअर का मांस नहीं खाते है इसके पीछे क्या कारण है।

मुस्लिम धर्म के लोग क्यों नहीं खाते सूअर का मांस:

# कुरान के अनुसार: इस्लाम धर्म के सबसे पवित्र और मुख्य ग्रन्थ कुरान पाक के मुताबिक स्पष्ट  रूप से कहा गया है की इस्लाम धर्म में ऐसे किसी भी जानवर का सेवन करना वर्जित है जो हलाल और जिंबा न किया गया हो। 

# इन्हें खाना हराम है: आप शायद इस बात को जानते होंगे की कुरान पाक के अनुसार किसी भी जानवर का मांस खाना जो किसी बिमारी या दुर्घटना में मर गया हो हराम माना जाता है।

# वैज्ञानिको के अनुसार: वैज्ञानिको के शोध के अनुसार सूअर का मांस खाने से व्यक्ति को 72 प्रकार की बीमारियाँ हो सकती है किन्तु इसे 1400 वर्ष पूर्व ही कुरान पाक में बता दिया गया था।

# मस्तिष्क को हानि: सूअर के मांस में टाईनिया सोलियम नाम का बैक्टीरिया पाया जाता है जो व्यक्ति के मस्तिष्क को अपना शिकार बनाता है और इससे दिमागी रोग उत्पन्न होते है।

No comments