सरकारी नौकरी

एक ऐसा मंदिर जो सूरज के डूबते ही हो जाता है वीरान, इंसान बन जाते है पत्थर !


भारत हिन्दू प्रधान देश है यहां करोड़ों मंदिर है। आज हम आपसे एक ऐसे ख़ास मंदिर के बारे में चर्चा कर रहे है जिसका रहस्य आज तक बना हुआ है। इस मंदिर का निर्माण 11वी शताब्दी में करवाया गया था। यह मंदिर राजस्थान में प्रसिद्द है इस मंदिर में दिन के समय लोगो का जमावाड़ा होता है तथा रात होते ही यह एक दम सून-सान हो जाता है।


# पुरानी कथा के अनुसार :

राजस्थान के किराडू गाँव में एक साधू रहता था वह कुछ काम से बाहर गया हुआ था तभी उस साधू के सारे शिष्यों का स्वास्थ्य खराब हो गया था तब उन शिष्यों की देखभाल किसी ने भी नहीं की थी। किराडू में एक कुम्हारिन रहती थी उसने सारे शिष्यों की देखभाल की थी। साधू जब वापस आया तो उसे यह सब देखकर बहुत क्रोध आया। उन्होंने संपूर्ण नगरवासियों को पत्थर बन जाने का श्राप दे दिया। जिस कुम्हारिन ने उनके शिष्यों की सेवा की थी, साधु ने उसे शाम होने से पहले यहां से चले जाने को कहा और यह भी सचेत किया कि पीछे मुड़कर न देखे।

# इंसान बन गए पत्थर :

लेकिन कुम्हारिन ने साधू की बात नहीं मानी उसने पीछे मुड़कर देख ही लिया और वह भी पत्थर की बन गई। इस श्राप के बाद अगर शहर में शाम ढलने के पश्चात कोई रहता था तो वह पत्थर का बन जाता था और यही कारण है कि वहां सूरज ढलने के बाद वीरान हो जाता है।


No comments