सरकारी नौकरी

मोहब्बत का मंदिर: यहां किसान ने बनवाया पत्नी का मंदिर, रोज करता है पूजा


हर इंसान अपने प्यार को अमर करना चाहता है। आपने मोहब्बत की प्रतीकात्मक इमारत कहे जाने वाले ताजमहल के बारे में तो सुना ही होगा लेकिन आज हम आपको बता रहे हैं एक किसान के बारे में जिसने ‘प्यार का मंदिर’ बनवाया है और उस मंदिर में अपनी पत्नी की मूर्ति स्थापित की है। इतना ही नहीं, 12 साल से वह किसान पूरी आस्था और श्रद्धा के साथ उस मंदिर में पूजा भी करता है।

किसान ने बनवाया पत्नी का मंदिर:

कर्नाटक के चामाराजानगर जिले के कृष्णपुरा गांव में राजू उर्फ राजूस्वामी नामक किसान ने अपनी पत्नी राजम्मा के नाम पर 2006 में ‘राजम्मा मंदिर’ बनवाया था। इस मंदिर में स्थापित राजम्मा की मूर्ति को खुद बनाया है। इस मंदिर में राजम्मा के साथ-साथ निश्वरा, सिड्डप्पाजी, नवग्रह और भगवान शिव की भी मूर्तियां हैं।


क्या है इस मंदिर का राज:

राजू ने अपनी बहन की बेटी से शादी की थी। राजू ने कहा, ‘मेरे माता-पिता हमारी शादी के खिलाफ थे। लेकिन हमने शादी कर ली क्योंकि मेरी बहन और बहनोई ने कोई विरोध नहीं किया। शादी के कुछ दिनों बाद मेरी पत्नी ने गांव में मंदिर बनाने की इच्छा जाहिर की लेकिन पूरा मंदिर बनने से पहले ही उसका निधन हो गया।’


प्यार का मंदिर: 

राजू कहते हैं, ‘उसे पहले ही अपनी मौत का आभास हो गया था। उसके पास स्पेशल पावर थी। वह हमेशा एक मंदिर का सपना देखती थी। वह एक आध्यात्मिक किस्म की महिला थी। इन बातों ने मुझे यकीन दिला दिया कि मुझे मंदिर बनाकर उसकी देवी के रूप में पूजा करनी चाहिए।’

No comments