सरकारी नौकरी

मोदी लहर रोकने के लिए विपक्ष को एकजुट करने में जुटी ममता


सपा और बसपा के मिल जाने से यूपी  में वोटों का अंकगणित बदल गया है और दोनों पार्टियों का वोट बैंक बीजेपी पर भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। अठावले ने कहा है कि वो योजना बना रहे हैं, लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी-बसपा के बीच गठबंधन हो। यदि जरूरत पड़ी तो बीजेपी की केंद्र में सरकार बनाने के लिए मायावती से बातचीत के सारे रास्ते पूरी तरह से खुले रखे। 

बीजेपी के सहयोगी दल भी चिंतित:

एनडीए के सहयोगी दलों को भी यह चिंता है कि सपा और बसपा के मिल जाने से यूपी  में वोटों का अंकगणित बदल गया है और दोनों पार्टियों का वोट बैंक बीजेपी पर भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। जिसका नतीजा गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में देखा जा चूका है। 2019 लोकसभा चुनाव में एनडीए अपना कुनबा बढ़ाना चाहता है और इसके लिए बीजेपी ने अपने सारे विकल्प खुले रखे है।

ममता बनर्जी ने रोका था बंगाल में मोदी का विजय रथ: 

2014 के लोकसभा चुनाव में जब पूरे देश में मोदी की लहर थी तब उस समय ममता बनर्जी ने बंगाल में मोदी के विजय रथ को रोका था। ममता चाहती है कि लोकसभा चुनाव 2019 के पहले पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ विपक्ष को एकजुट कर मोदी के विजय रथ को रोका जाये।

No comments