सरकारी नौकरी

पहले गाल सहलाया, फिर लड़की के सामने झुके राज्यपाल !


हाल ही में तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने एक महिला पत्रकार के गाल सहलाकर नए विवाद को जन्म दिया था। 'डिग्री के लिए सेक्स' केस में आरोपी महिला के बयान पर घि‍रे बनवारी लाल पुरोहित ने मंगलवार को इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेस बुलाई थी। लेकिन हालात यह बने कि इस मामल के साथ-साथ वह एक और नए मामले में फंस गए थे।

# महिला पत्रकार के गाल सहलाये :

दरअसल, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उनसे कई पत्रकार सवाल कर रहे थे। इसी सूची में एक महिला पत्रकार भी शामिल थी। जब उनसे महिला पत्रकार लक्ष्मी सुब्रमण्यम ने इस मामले में एक सवाल किया, तो उन्होंने इस सवाल के जवाब में महिला पत्रकार के गाल सहला दिए। इस पर महिला पत्रकार बुरी तरह भड़क उठी। महिला पत्रकार ने बतया कि इस घटना के बाद उन्होंने कई बार अपना मुंह धोया, लेकिन वो इस बात को भुला नहीं पा रही थी। हालांकि अब इस मामले पर राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने महिला पत्रकार से माफी मांग ली हैं। राज्यपाल ने पत्रकार लक्ष्मी को चिट्ठी लिखकर इस मामले पर सफाई दी।

# राज्यपाल ने मांगी माफ़ी :

इस मामले की जानकारी महिला पत्रकार ने सोशल मीडिया पर भी शेयर की थी. लेकिन मैं उन्हें गलत मानती हूँ। पोस्ट में उन्होंने लिखा कि राज्‍यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मैं काफी गुस्‍से में हूँ। 78 वर्षीय राज्यपाल ने महिला पत्रकार से माफी मांगते हुए पत्र में लिखा कि- मैंने आपका गाल ठीक उसी तरह सहलाया हैं, जिस तरह मैं अपनी पोती का गाल सहलाता हूँ। उन्होंने महिला पत्रकार की प्रतिक्रिया पर सफाई देते हुए कहा कि  मैं खेद जताना चाहता हूं और दुख को कम करना चाहता हूं।"

No comments