सरकारी नौकरी

एक नर्स ने की अपने ही 20 मरीजों की हत्या, कारण जानकर उड़ जायेंगे होश


जापान में एक नर्स जिसका नाम अयुमो कोबुकी है,को 20 मरीजों की अपनी शिफ्ट के दौरान जहर देकर हत्या करने के शक में गिरफ्तार किया गया है। डेलीमेल की खबर के मुताबिक 31 साल की इस नर्स पर आरोप है कि 2016 में  जब वो टोक्यो से 32 किमी दूर ओगुची अस्पताल में काम करती थी उसने बुजुर्ग मरीजों की ड्रिप में एंटीसेप्ट‍िक सल्यूशन का इंजेक्शन लगा कर उन्हें जहर मौत की नींद सुला दिया।

परिजनों को मौत की सूचना देने में परेशानी: 

कोबुकी ने पुलिस को बताया कि वो इस तरीके से अपने  के अनुसार वह उसने सिर्फ बुजुर्ग और काफी बीमार मरीजों को ही मारती थी। ओगुची ने ऐसा इसलिए क्योंकि उसे मरीजों के परिजनों को उनकी मौत की सूचना देने में झ‍िझक होती थी। दरसल ओगुची अस्पताल के निमों के अनुसार किसी मरीज की मृत्यु होने पर उन नर्सों को ही परिवारवालों से बात करनी होती थी जो मरीज की मौत के समय ड्यूटी पर होती थीं। 

एेसे खुला भेद: 

कोबुकी के कारनामे का भेद तब सामने आया जब, एक नर्स को 88 साल के एक मरीज की सितंबर 2016 में मौत होने के बाद उनकी ड्र‍िप में बबल देखे। बबल मौजूद होने का मतलब होता है कि ड्रिप बैग से छेड़छाड़ की गई है। जिसके बाद में डॉक्टरों ने यामाकी के खून में काफी मात्रा में एंटीसेप्ट‍िक सल्यूशन पाया और उन्हें समझ आया कि मरीज को जहर दिया गया है।

No comments