सरकारी नौकरी

घर में भूलकर भी एक साथ ना बनवाएं टॉयलेट और बाथरूम, हो सकती है समस्या


इस मॉडर्न ज़माने में इंसान सभी सुख सुविधाओं का आदि हो गया है। आजकल लोग फैशन और सहूलियत के अनुसार ही घर के कमरे बनवाते हैं। इसी के साथ कमरों में लेट-बाथ भी एक साथ बना दिए जाते हैं जिससे जगह का भी ज्यादा इस्तेमाल नहीं होता। एक ही कमरे में दोनों काम हो जाते हैं।

इन बातों का रखें ध्यान:

# वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में लेट-बाथ को साथ में बनवाना सही नहीं माना जाता है। यह घर में असदस्यों के बीच परेशानी का कारण भी बनता है। इतना ही वास्तु शास्त्र में बताया गया हाउ कि स्नानगृह में चन्द्रमा का वास है जबकि शौचालय में राहु का वास होता है। 

# ऐसे में दोनों अगर एक साथ रहेंगे तो वास्तुदोष उत्पन्न हो सकता है। टॉयलेट एक साथ होने से चन्द्रमा और राहु भी एक साथ हो जाते हैं जिसके कारण ग्रहण भी हो सकता है और चन्द्रमा दोषपूर्ण हो जाता है।

# दोषपूर्ण चन्द्रमा कई और दोषों को उत्पन्न करता है। चंद्रमा मन और जल का कारक है और राहु विष का। इसी को देखते हुए अगर टॉयलेट एक साथ होते हैं तो जल विषयुक्त हो जाता है जिसका प्रभाव सभी सदस्यों पर पड़ता है। 

# चन्द्रमा और राहु दोनों ही विपरीत हैं जिनके एक साथ होने से सदस्यों के बीच लड़ाई खत्म ही नहीं होती। अगर घर को वास्तु दोष से मुक्त रखना है तो घर में एक साथ टॉयलेट ना बनवाएं।

No comments