सरकारी नौकरी

पीलिया की बीमारी में फायदेमंद है मूली के पत्तों का सेवन


पीलिया की बीमारी होने पर सिर दर्द, फीवर, जी मिचलाना, भूख न लगना, स्किन में खुजली और थकान जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। इसके अलावा स्किन और आंखों का रंग पीला हो जाता है। आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनके इस्तेमाल से  पीलिया और हेपेटाइटिस बी की समस्या ठीक हो जाती है।

करें ये उपाय:

# पीलिया में मूली के पत्तों का रस पीना फायदेमंद होता है। मूली के पत्तों का रस किडनी और लीवर से बिलीरुबिन को निकाल कर पीलिया की बीमारी से आराम दिलाता है।

# टमाटर का रस भी पीलिया की बीमारी में बहुत फायदेमंद होता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है और साथ ही इस में लाइकोपीन की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है। 

# टमाटर के रस में थोड़ा-सा नमक और काली मिर्च मिलाकर पीने से पीलिया की बीमारी से आराम मिलता है।

# आंवले में विटामिन सी की भरपूर मात्रा पाई जाती है। रोजाना आंवले का जूस पीने से पीलिया की बीमारी ठीक हो जाती है।

# नींबू का रस और अनानास का रस पीने से भी पीलिया की बीमारी ठीक हो जाती है। अनानास का रस पेट के सिस्टम को साफ रखने में मदद करता है।

No comments