सरकारी नौकरी

यहां ऑफिस में सोने की नहीं है कोई मनाही, बस एक ही है शर्त ...


सुबह की मीठी नींद सबको प्यारी लगती है। सुबह उठकर ऑफिस जाना ही इंसान को सबसे ख़राब लगता है। वो यही सोचता है कि काश छुट्टी हो और उसे खूब सारा सोने को मिले। वहीं कभी-कभी ऐसा भी होता है कि ऑफिस में हमें बहुत नींद आती है लेकिन हम सो नहीं पाते क्योंकि हमें काम होता है। पर क्या हो जब आपको ऑफिस में सोने को मिल जाए इससे बेहतर और क्या होगा। 

यहां ऑफिस में सोने की है अनुमति:

जापान में ऑफिस में सोने की पूरी अनुमति है। बस यहां की एक शर्त है 'इनेमुरी' यानी आपको ऑफिस में तो रहना ही होगा लेकिन सोते हुए। अब ये सवाल भी है कि ऐसा क्यों है और सोने की इजाज़त क्यों है तो आपको बता दें, काम के घंटे कुछ ज्यादा ही होते हैं जिसके कारण अधिकतर लोग रात में केवल 6 घंटे की ही नींद ले पाते हैं। यहां जब भी कोई सोता हुआ दिखाई देता है तो ये माना जाता है कि वह काम कर के थक गया है। 

क्या है इसका कारण:


ऑफिस में सोने का चलन तब शुरू हुआ जब युद्ध के बाद जापान के लोग देश को आगे ले जाने के लिए खूब मेहनत कर रहे थे। जापान में ये बात आम हो गई है कि लोग कार में या मीटिंग में सो रहे हों। ये भी कह सकते हैं कि ये चलन में आ चुका है। लेकिन कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के स्कॉलर डॉ. ब्रिगेट स्टीगेर ने जापानी संस्कृति पर काफी अध्ययन किया है जिस पर ये बताया कि कौन सो सकता है। 


No comments