सरकारी नौकरी

आखिर क्यों मनाया जाता है भाई दूज, क्या है इसका महत्व ??


भाई दूज का त्यौहार भाई और बहन के पवित्र रिश्ते का प्रतीक है और इस दिन हर बहन अपने भाइयों की खुशी और लंबी आयु के लिए मुत्यु के देवता यमराज की पूजा करती हैं। इस साल यह त्यौहार 9 नवम्बर को आने वाला है।

क्या है मान्यता:

इस दिन यमराज ने अपनी बहन यमुना को दर्शन दिए थे और यमुना के स्वागत से खुश होकर यमराज ने वरदान दिया था कि इस दिन जो बहनें अपने भाइयों की लंबी आयु की कामना करके उनके लिए व्रत रखेंगी, टीका करेंगी, तो उनके भाइयों की रक्षा स्वंय यमराज करेंगे।

जो भाई इस दिन अपनी बहनों से तिलक करवा कर उनके हाथ का बना हुआ खाना खाते हैं, उनकी रक्षा खुद यम देवता करते हैं।

भाई दूज का महत्व:

दिवाली के दूसरे दिन कार्तिक शुक्ल द्वितीया को भाई दूज का पर्व मनाया जाता है और इस दिन यमराज के सचिव चित्रगुप्त जी की भी पूजा की जाती है। इस तिथि से यमराज और द्वितीया तिथि का संबंध होने के कारण इसको यमद्वितिया भी कहा जाता है।

No comments