सरकारी नौकरी

आखिर क्यों पहनाया जाता है शादी में दुल्हन को मामा के घर से आया चूड़ा ??


हर लड़की का बचपन से सपना होता है कि वो एक दिन दुल्हन बनेगी। वो कपड़ों से जूलरी तक सब कुछ देखती हैं। लेकिन हर लड़की एक चीज के लिए पागल होती है, वह है चूड़ा, और हमें यकीन है कि आप में से कई हमारे साथ सहमत होंगे। बहुत सी लड़कियों लाल और सफेद रंग की पारंपरिक चूड़ी के सुंदर कॉम्बिनेशन को पहनने के लिए उत्सुकता से इंतज़ार कर रही होती है।  

शादी में चूड़े का महत्व:

शादी किसी भी कपल की लाइफ का सबसे खूबसूरत पल होता है। शादी से जहां दो दिल मिलते है वहीं दो परिवारों का मेल होता है। रिश्तेदारों के आर्शीवाद से दुल्हा-दुल्हन अपनी नई जिंदगी की शुरूआत करते है। भारतीय शादी में कई तरह की रस्में की जाती है। शादी के दिन दुल्हन के घर पर चूड़ा और कलीरे की रस्म की जाती है।

मामा के घर से आता है चूड़ा:

चूड़े की रस्म दुल्‍हन को चूड़ा शादी के मंडप में ही उसकी मामा जी ही देते हैं। उस दौरान दुल्‍हन की आंखें उसकी मां बंद कर देती हैं, जिससे वह चूड़ा ना देख पाए। माना जाता है कि तैयार होने से दुल्हन का चूड़ा देखना शुभ नहीं होता। वहीं रस्म वाले दिन से एक रात पहले चूड़े को दूध में भिगो कर रखा जाता है।

21 चूडियों से बना होता:

ये 21 चूडियों से बना होता है जोकि लाल और सफेद रंग की होती है। आजकल तो कई तरह के चूडे मार्किट में आए हुए है। आजकल तो लड़कियां इस पर अपना और अपने पति का नाम लिखवाती है।

No comments