सरकारी नौकरी

loading...

प्रेग्नेंसी में महिलाएं कभी ना करें एलोवेरा का सेवन, हो जायेगा गर्भपात


अक्सर एलोवेरा का सेवन स्किन के लिए और ग्लोइंग फेस के लिए किया जाता है। चेहरे को निखारने के लिए अधिकतर लोग एलोवेरा का ही इस्तेमाल करते हैं। इसके अनेक फायदे है मगर क्या कभी आपने इसके साइड इफेक्ट के बारे में सोचा है। एलोवेरा का उपयोग सामान्य तौर पर मुहांसो, ड्राई स्किन, स्ट्रेच मार्क्स, जलने पर या फिर चेहरे के दाग धब्बों को दूर करने के लिए किया जाता है।

हो सकते है ये नुकसान:

# शुद्ध एलोवेरा का जरूरत से अधिक मात्रा का सेवन करते है तो इससे आपको नुकसान भी हो सकते है।

# यदि एलोवेरा का जरूरत से अधिक या गलत तरीके से इस्तेमाल किया जाता है तो इससे शरीर का पोटैशियम स्तर घट जाता है, जिससे दिल की धड़कन अनियमित हो जाती है।

# इसके अधिक सेवन से डायरिया भी हो सकता है। एलोवेरा में लैक्सेटिव एंथ्राक्विनोन आदि तत्व मौजूद होते है, जिस कारण डायरिया हो जाता है।

# गर्भवती स्त्री के एलोवेरा के सेवन से गर्भपात की संभावना बढ़ जाती है। एलोवेरा में मौजूद लैक्सेटिव बॉडी में दवाओं को अवशोषित होने से भी रोक सकता है।

No comments