सरकारी नौकरी

loading...

गर्भावस्था के दौरान बिछिया पहनने से मां और बच्चे दोनों को होते हैं फायदे


हिन्दू समाज में अक्सर शादी के बाद सभी महिलाओं को पैरों में बिछिया पहनाई जाती है। बिछिया को सुहाग की निशानी भी माना जाता है। कुछ महिलाएं रस्म के रूप में और कुछ फैशन के लिए बिछिया पहनते हैं, पर क्या आपको पता है गर्भावस्था में बिछिया पहनने से मां और बच्चे दोनों को बहुत सारे फायदे हो सकते हैं। 

होते है ये फायदे:

# गर्भावस्था के दौरान पैरों में बिछिया पहनने से तनाव से आराम मिलता है और मन को शांति मिलती है।

# जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान ब्लड प्रेशर की समस्या रहती है उन्हें अपने पैरों में बिछिया जरूर पहनना चाहिए।

# पैरों में बिछिया पहनना पेट में पल रहे बच्चे के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। बिछिया पहनने से बच्चे का शारीरिक और मानसिक विकास सही तरीके से होता है। बिछिया पेट में पल रहे बच्चे को एनर्जी प्रदान करती है।

# पैरों में चांदी पहनने से शरीर को ठंडक के साथ-साथ पॉजिटिव एनर्जी भी मिलती है। बिछिया पहनकर जब आप जमीन पर चलते हैं तो इससे आपका दिमाग शांत रहता है। 

# इसके साथ ही शरीर का अंदरूनी हिस्सा गर्भाशय से कनेक्ट होता है। इसलिए बिछिया पहनने से शरीर को एनर्जी मिलती है।

# महिलाएं पीरियड की समस्या से परेशान रहती हैं। इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए पैरों की उंगलियों में बिछिया जरूर पहने। बिछिया पहनने से आपको पीरियड से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।

No comments