सरकारी नौकरी

loading...

महिलाओं के प्राइवेट पार्ट्स में क्यों हो जाते हैं पिम्पल, जानें कारण और बचाव


अक्सर प्राइवेट पार्ट शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा होता है। ऐसे में इस अंग की खास देखभाल रखनी पड़ती है। प्राइवेट पार्ट पर पिपंल्स कई कारणों से हो सकते हैं। आज हम इसी के कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं जिससे आपकी ये परेशानी दूर हो जाएगी। आपको अपने प्राइवेट पार्ट्स के लिए कुछ ज्यादा ही ध्यान रखना होता है। उन हिस्सों पर कुछ भी होना आपके लिए पबड़ी परेशानी बन सकती है।

कैसे करें पिम्पल से बचाव:

# वैक्सिंग: प्राइवेट पार्ट शरीर का बहुत ही सैंसेटिव हिस्सा है। इस पार्ट पर वैक्सिंग करवाने के बाद जगह लाल हो जाती है जो आपको काफी दर्द भी दे सकती है।


# शेविंग: कुछ महिलाएं प्राइवेट पार्ट पर शेविंग करती हैं जिससे कई बार कट लग जाता है और मुंहासे हो जाते हैं।

# पसीना आना: शरीर के इस हिस्से पर सबसे ज्यादा पसीना आता है। पसीने की वजह से यहां बैक्टीरिया का निर्माण होता है जिससे इस हिस्से के आस-पास पिंपल्स हो जाते हैं।


# टाइट कपड़े: टाइट जींस या अंडरगार्मेंट पहनने की वजह से भी प्राइवेट पार्ट के आस-पास दाने हो जाते हैं। ज्यादा टाइट कपड़ों की वजह से इस हिस्से पर पर्याप्त हवा नहीं पहुंच पाती जिस वजह से मुंहासे हो जाते हैं।

No comments