सरकारी नौकरी

आदर्श बहू बनने के लिए जानिए कुछ खास बाते, सभी लोग करेंगे इज्जत


विवाह होने के बाद में लड़की के ऊपर नए परिवार की जिम्मेदारियां आ जाती हैं। इस कारण कई बार उसको अपने मायके की याद आने पर भी अपने माता पिता को अनदेखा करना पड़ता है। आज हम आपको यहां कुछ ऐसे टिप्स दे रहें हैं। जो न सिर्फ आपकी इस प्रकार की यादों को दूर रखने में मददगार होंगे बल्कि आपके रिश्ते को ससुराल तथा मायके दोनों में ही मजबूत बनाएंगें। आइये जानते हैं इन टिप्स के बारे में....

शेड्यूल को बनाएं
अपने ससुराल के लोगों से बातचीत करके यह शेड्यूल करें की आप अपने मायके के कार्यों की उपेक्षा किये बगैर कितनी बार तथा किस समय अपने मायके जा सकती हैं।

मायके वालों को बुलाएं
आप अपने मायके से अपनी माता या पिता या सभी को कभी कभी अपने घर में भी बुलाएं। वे आपके ससुराल में आकर यह भी देख पाएंगे की उनकी बेटी किस प्रकार से अपनी गृहस्थी को सम्हाल रही है तथा आपके सास ससुर से भी अच्छे से मिल पाएंगे। ऐसा करने से दोनों ही परिवारों के रिश्ते मजबूत होंगे।

हर बात मायके वालों से न करें
आप जब भी अपने मायके वालों से मिले तो बेशक आप उनसे चर्चा करें, बातचीत करें तथा सलाह मशविरा करें। लेकिन अपने ससुराल की छोटी मोटी बातें  समस्याएं अपने मायके के लोगों से न कहें। किसी बात को लेकर बखेड़ा न खड़ा करें। आपके नए परिवार की इज्जत आपके ही हाथ में है। इसको समझे और अपने विवेक का प्रयोग करें।

आयोजन करें
महीने में एक बाद घर पर पूरे परिवार के साथ भोजन या पिकनिक का प्लान करें। सभी लोग साथ रहें। इससे सभी के रिश्तों में आपसी मजबूती आएगी तथा दोनों परिवार खुश भी रहेंगें।

तीज-त्योहारों में रखें ख़ास ध्यान
तीज-त्योहारों में आप अपने परिजनों को अपने ससुराल बुलाएं या उनके घर जाएं। असल में ऐसे अवसरों पर सभी को अपने ही लोगों की याद बहुत आती है। लेकिन ध्यान रखें की इन अवसरों पर आपको दोनों ही परिवारों का पूरा ध्यान रखना होता है अतः अपनी सीमा तथा मर्यादा का पूरा ध्यान रखें।

No comments