सरकारी नौकरी

शारीरिक संबंध के दौरान फोरप्ले ही नहीं आफ्टरप्ले भी है जरुरी, जानिए फायदे


शारीरिक संबंध के लिए फोरप्ले करना बहुत जरुरी है। लेकिन इस बात पर आमतौर पर फोकस नहीं किया जाता कि फोरप्ले के साथ ही सेक्स के बाद साथी के साथ कुछ प्यारभरे पल बिताना और भी जरूरी है। इसे आफ्टर प्ले कहते हैं। फोरप्ले जितना जरुरी होता है उतना ही जरुरी होता है आफ्टर प्ले जिससे दोनों में इमोशनली जुड़े होते हैं।

आफ्टरप्ले भी है जरुरी:

# इंटरकोर्स के बाद अपने साथी के साथ कुछ पल बिताना आफ्टर प्ले है। इसमें कडलिंग, स्पूनिंग, टॉकिंग इत्यादि शामिल है।

# इंटरकोर्स के बाद ज्यादातर कपल अपनी दुनिया में खो जाते हैं। आप भी इंटरकोर्स के बाद बेड के एक कोने में और आपका पार्टनर बेड के दूसरे कोने में लेट जाते हों. लेकिन ऐसा करना सही नहीं है।

# सेक्स के दौरान सबसे अधिक ध्यान इंटरकोर्स पर दिया जाता है। लेकिन आपको यह बात जाननी चाहिए कि सिर्फ इंटरकोर्स ही संतुष्टि का कारण नहीं होता है। 

# सेक्स के पूरे सेशन में फोरप्ले और ऑफ्टर प्ले का अहम रोल है। अगर आप सिर्फ इंटरकोर्स पर फोकस करेंगे तो सेक्स को पूरी तरह इंजॉय नहीं कर पाएंगे।

No comments