सरकारी नौकरी

दुनिया से अलग है इस गाँव के रिवाज, यहां दुल्हन की नहीं बल्कि दुल्हे की होती है विदाई


आजकल हर समाज के अपने नियम और रीती रिवाज होते है। जब भी शादी होती है तो दुल्हन की विदाई होती है और उसके बाद दुल्हन अपने पति के साथ उसके घर पर रहती है मगर आज हम आपको एक ऐसे अनोखे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर शादी के बाद में लड़की की नहीं बल्कि लड़के की विदाई होती है।

दुल्हे की होती है विदाई:

ये सब रेबाड़ी समुदाय के लोगों में होता हैं क्योंकि यहां पर सेक्स रेश्यों में काफी फर्क है जिसके कारण ऐसा किया जाता है। यहां लड़कियां लड़कों कि तुलना में काफी कम है। रेबाड़ी लोगों का कहना है की वे एक जगह से दूसरी जगह झुंडों में रहते है और इन लोगों को पशुओं को चराने के लिए उन्हें इधर-उधर जाना पड़ता है, ऐसे में लड़कियों कि सुरक्षा इनके लिए सबसे प्रमुख काम होता है और यहीं कारण है कि यहां पर सेक्स रेश्यो में भी इसी वजह से काफी फर्क है।

वजह जानकर उड़ गए होश:

लड़कियों के घटते क्रम को देखते हुए यहां के लोगों ने इस प्रकार को रास्ता निकाला है जिसमें ये लोग शादी के बाद में दूल्हें को विदा करके आते हैं। इतना ही नहीं दूल्हा विदा होकर जाने के बाद लड़की के घर का यानी अपने ससुराल का सारा काम करता है और सबका ध्यान भी रखता है।

No comments