सरकारी नौकरी

भगवान शिव जी क्यों पहनते हैं शेर की खाल, जानिए क्या है इसका सच


हिन्दू एक धार्मिक समाज है। हमारे हिंदू धर्म में कई देवी-देवताओं की पूजा की जाती है। सभी देवताओं में एक अलग किस्म के भगवान की भी पूजा की जाती है जो बाकी के देवताओं से बहुत ही अलग दिखते हैं। उस अद्भुत भगवान का नाम शिव है जिनकी पूजा महिलाओं से लेकर पुरूष तक करते हैं।

भगवान शिव की वेशभूषा:

इस वेशभुसा के पीछ एक रहस्य भी छिपा है जिसके बारे में बहुत कम ही लोग जानते होंगे। क्या आपने कभी सोचा की भगवान शिव शेर की खाल क्यों पहनते हैं। भगवान शिव से जुड़ी एक कथा है जिसमें उनके इस रहस्य का जिक्र किया गया है।

शिव जी क्यों पहनते हैं शेर की खाल:

शिव पुराण में भगवान शिव और शेर से संबंधित एक कथा दर्ज है। इस पौराणिक कथा के अनुसार भगवान शिव एक बार ब्रह्मांड का गमन करते-करते एक जंगल में पहुंचे जो कि कई ऋषि-मुनियों का स्थान था। भगवान शिव इस जंगल से निर्वस्त्र गुजर रहे थे। शिवजी का सुडौल शरीर देख ऋषि-मुनियों की पत्नियां उनकी ओर आकर्षित होने लगी।

ये है इसकी खास वजह:

ऋषियों ने शिवजी के मार्ग में एक बड़ा गड्ढा बना दिया, मार्ग से गुजरते हुए शिवजी उसमें गिर गए। जैसे ही ऋषियों ने देखा कि शिवजी उनकी चाल में फंस गए हैं, उन्होंने उस गड्ढे में एक शेर को भी गिरा दिया, ताकि वह शिवजी को मारकर खा जाए।

शिवजी ने स्वयं उस शेर को मार डाला और उसकी खाल को पहन गड्ढे से बाहर आ गए। इस पौराणिक कहानी को आधार मानते हुए यह बताया जाता है कि इसलिए शिवजी शेर की खाल पहनते हैं।

No comments