सरकारी नौकरी

नयी पीढ़ी में बढ़ रहा है बिना मोज़े जूते पहनने का चलन, लेकिन जान लें ये बात


आजकल की नई पीढ़ी फैशन के पीछे पागल है। जूतों के नीचे मोज़े न पहनने का ट्रेंड आजकल ज्यादा ही चल रहा है। बॉलीवुड के एक्टर से लेकर हॉलीवुड तक, सेलेब्रिटीस ने फैशन के चलते ये ट्रेंड सेट कर दिया है। लेकिन किसी भी फैशन ट्रेंड के अच्छा बुरा जाने बगैर उसे अपना लेना भी काफी नुक्सानदायक होता है। बिना जुराब के जूते पहनने से आज युवाओ में एक इन्फेक्शन फ़ैल रहा है।

रिसर्च में हुआ खुलासा:

कॉलेज ऑफ पोडियाट्री ने दावा किया की बिना जुराब जूते पहनने से पुरुषो में फंगल इंफेक्शन का खतरा तेज़ी से बढ़ रहा है। त्वचा रोग विशेषज्ञ एम्मा स्टीफन्सन का कहना है कि 18 से 25 साल के पुरूषों में बिना मोजे और खराब फिटिंग के जूते पहनने के कारण पुरूषों में कई तरह की त्वचा संबधी बिमारियों का खतरा बढ गया है।


फ़ैल रहा है इन्फेक्शन:

आमतौर पर एक दिन में 300 मिलीलीटर पसीना निकलता है। गर्मी के कारण निकलने वाले पसीने और नमी की वजह से फंगल इंफेक्शन का खतरा बढ जाता है। एम्मा ने बताया कि ज्यादा पसीने और पैरो में नमी के परिणाम बहुत बुरे हो सकते है।

जूता पहनने से पहले अपने पैर के तलवे पर एंटिपर्सिपरेंट स्प्रे करें। और अगर कभी लगे की पैर में दर्द है या त्वचा सम्बन्धी कोई परेशानी पैदा हो रही है तो उसे नज़रअंदाज़ न करे और डॉक्टर से संपर्क करे।

No comments