सरकारी नौकरी

अजब: शादी में विदाई के समय पीछे क्यों फेंके जाते है चावल, जानिए वजह


शादी इंसान का सबसे खास पल होता है। भारतीय संस्कृति के अनुसार शादी एक ऐसी परम्परा है, जिससे एक लड़की का जीवन पूरी तरह से बदल जाता है। जी हां अब जाहिर सी बात है कि शादी के बाद लड़की एक नए घर और एक नए परिवार में जाती है तो उसका जीवन भी पूरी तरह से बदल ही जाता है।

विदाई के समय पीछे क्यों फेंके जाते है चावल:

शादी की सबसे अंतिम और बेहद महत्वपूर्ण रस्म होती है। वैसे आपने अक्सर देखा होगा कि शादी में विदाई के दौरान लड़की थाल में से चावल लेकर पीछे की तरफ फेंकती है और फिर पीछे मुड़ कर नहीं देखती। अब यूँ तो लड़की की शादी में आपने कई बार इस रस्म को होते हुए देखा होगा, लेकिन क्या आप वास्तव में इस रस्म का मतलब जानते है।

ये है चावल फेंकने की वजह:

यविदाई के समय दुल्हन अपने हाथो में चावल या फिर चावल और बताशे दोनों ही चीजे पीछे फेंकने के लिए लेती है। लड़की के विदा होने के बाद यह अन्न पूरे घर में डाला जाता है। दरअसल ऐसा माना जाता है कि एक बेटी जिसे घर की लक्ष्मी माना जाता है, अगर वो विदाई के समय ये रस्म करती है, तो उसके घर में यानि उसके मायके में कभी अन्न और धन की कमी नहीं होती है। 

No comments