सरकारी नौकरी

अब आप भागकर भी इस मंदिर में नहीं कर पाएंगी शादी, दिखाना होगा आधार कार्ड


आजकल आधार कार्ड कई सरकारी योजनाओं के लिए जरूरी हो गया है लेकिन कभी आपने सुना है कि शादी करने के लिए भी आधार कार्ड चाहिए। उत्तराखंड में एक ऐसा ही मंदिर है जिसमें शादी करने के लिए आधार कार्ड जरूरी है। यह मंदिर उत्तराखंड के अल्मोडा में स्थित है। अल्मोडा में स्थित गोलू देवता के प्रसिद्ध मंदिर में शादी करने के लिए अब आधार कार्ड जरूरी है।

इस मंदिर में नहीं कर पाएंगी शादी:

इस मंदिर में प्रतिवर्ष करीब 400 शादियां होती हैं, यानी शादियों के सीजन में रोजना करीब छह शादियां यहां होती हैं। इस बात के मद्देनजर मंदिर प्रशासन ने अब यहां होने वाली शादियों से पहले व्यक्ति की पहचान सुनिश्चित करने के लिए आधार कार्ड जरूरी कर दिया है।


दिखाना होगा आधार कार्ड:

नाबालिग शादियों को रोकने के मकसद से मंदिर प्रशासन ने यह कदम उठाया है। स्थानीय मान्यताओं के अनुसार, इस मंदिर में शादी करने से विवाहित जोड़े पर गोलू देवता का आशीर्वाद रहता है। गोलू देवता को कुमाऊं क्षेत्र में न्याय के देवता के रूप में पूजा जाता है।


क्या है आधार कार्ड की वजह:

मंदिर के पुजारी और कोषाध्यक्ष हरी विनोद पंत ने बताया कि हर साल यहां बड़ी संख्या में शादियां संपन्न कराते हैं, तो ऐसे में विवाहित जोड़े का नाम और अड्रेस को जांचना मुश्किल हो जाता है। इसलिए आधार कार्ड जरूरी किया गया।

No comments