सरकारी नौकरी

loading...

यहां स्कूल में बच्चों से नहीं ली जाती है फीस, बदले में स्टूडेंट्स से लेते है ये चीज़


शिक्षा हर इंसान का अधिकार है। सरकार का मानना है कि इसकी वजह से अब बच्चों को पैसों की कमी के कारण पढ़ाई नहीं छोड़नी पड़ेगी। लेकिन कुछ बच्चे पैसों की कमी की वजह से स्कूल में अच्छी शिक्षा नहीं ले पाते। कोई भी मां-बाप यह नहीं चाहेंगे कि उनके बच्चे शिक्षा के वंचित रहें लेकिन आर्थिक समस्या ऐसी होती है जिससे पार पाना कई स्थितियों में बहुत मुश्किल है।

यहां नहीं ली जाती है फीस:

यह स्कूल नाइजीरिया के लागोस का है जिसका नाम मॉरिट इंटरनेशनल स्कूल बताया गया है। यह स्कूल बच्चों को पढ़ाने के लिए पैसे नहीं बल्कि बेकार प्लास्टिक की बोतलें लेता है। मॉरिट इंटरनेशनल स्कूल द्वारा इस काम को करने के पीछे दो कारण बताए गए हैं।

लेता है प्लास्टिक की बोतलें:

आज हम आपको एक ऐसे स्कूल के बारे में बताने जा रहे हैं जहां बच्चों को पढ़ाने के बदले फीस नहीं ली जाती है। जानकर यकीन नहीं होगा कि जहां आज के समय में स्कूल अभिभावकों से फीस के नाम पर मोटी रकम की डिमांड करते हैं ऐसे में एक स्कूल ऐसा भी है जो बच्चों को पढ़ाने के बदले बेकार प्लास्टिक की बोलते लेता है।

ये है इसकी वजह:

मॉरिट इंटरनेशनल स्कूल का मानना है कि ऐसा करने की पहली वजह तो यह है कि इससे पर्यावरण साफ होता है और दूसरा जिन लोगों के पास फीस देने के लिए पैसे नहीं हैं वे स्कूल फीस के बदले में प्लास्टिक की बोतलें देकर अपने बच्चों को शिक्षा दिला सकते हैं।

No comments