सरकारी नौकरी

loading...

अगर आप भी करते है ओरल सेक्स, तो जरूर बरतें ये सावधानी


आजकलों शारीरिक सम्बन्ध बनाना आम बात है। लेकिन ओरल सेक्स भी उतना ही जरुरी होता है। पार्टनर्स ओरल सेक्स भी काफी पसंद करते हैं, वहीं कुछ लोगों को ये पसंद नहीं आता है। ओरल सेक्स को ब्लो जॉब, गिविंग हेड, सिक्स नाइन और रिमिंग जैसे कई नामों से जाना जाता है। ओरल सेक्स का अर्थ है अपने पार्टनर और उसके जननांगों को उत्तेजित करने के लिए मुंह और जीभ का इस्तेमाल करना है।

इन बातों का रखें ख्याल:

# असुरक्षित ओरल सेक्स से एचआईवी/ एड्स का खतरा ज्यादा होता है। असल, लोग ओरल सेक्स के बाद इंटीमेट होते हैं या फिर इंटीमेट होने के बाद ओरल सेक्स करते हैं जिससे इस बीमारी का खतरा बढ़ता है।


# हर्पिस यौन संचारित बीमारी है, जो दो प्रकार की होती है। पहला होता है मुंह का हर्पिस जिसमें मुंह के भीतर छाले पड़ जाते हैं और दूसरा प्राइवेट पार्ट का हर्पिस, जिसमें प्राइवेट पार्ट पर छोटे-छोटे घाव हो जाते हैं।


# हेपेटाइटिस ए एक सामान्य वायरल संक्रमण है जो पीलिया और पेट दर्द का कारण बनता है। इसके वायरस मल में पाए जाते हैं और इससे संक्रमित व्यक्तियों के प्राइवेट पार्ट पर भी मौजूद होते हैं।


# असुरक्षित ओरल सेक्स के कारण सिफलिस हो सकता है। अगर इसका इलाज समय पर नहीं किया गया तो स्थिति काफी गंभीर हो सकती है। पार्टनर के प्राइवेट पार्ट पर होंठ लगाने से यह बीमारी हो सकती है।

No comments