सरकारी नौकरी

loading...

बरसात में लड़कियाँ वजाइना का रखें खास ख्याल, इंफेक्‍शन का रहता है खतरा


अक्सर लड़कियों को बरसात के दिनों में वजाइनल इंफेक्‍शन की समस्‍याएं भी बढ़ जाती हैं। महिलाएं अक्‍सर इस मौसम में रैशेज और जलन की शिकायत ज्‍यादा करती है। इन सभी समस्‍या से बचने के लिए जरूरी है कि आप अपनी इंटीमेट हाइजीन का खास ख्‍याल रखें। प्राइवेट पार्ट की हाइजीन में बरती गई जरा सी लापरवाही भी गंभीर समस्‍या का कारण बन सकती है। 

इंटीमेट ड्राइनेस का रखें खास ख्‍याल

बरसात में नमी इंफेक्‍शन का मूल कारण है। इंटीमेट हाइजीन की राह में बरसात के मौसम में सबसे ज्‍यादा समस्‍या इसी की वजह से होती है। अगर आप भीग गई हैं तो जरूरी है कि बाहरी कपड़े बदलने के साथ ही अंडर गारमेंट्स को भी बदलें। 

इंटीमेट हाइजीन के लिए जरूरी है कि वेजाइना को हमेशा ड्राई रखें। इसके लिए अपनी वेजाइना को साफ, सॉफ्ट टॉयलेट पेपर से आगे से पीछे तक अच्‍छे से साफ करें। अगर इसे विपरीत दिशा में किया जाता है, तो हानिकारक बैक्‍टीरिया के पनपने का खतरा ज्‍यादा होता है।

इंटीमेट हाइजीन के लिए जरूरी है कि समय-समय पर अपने प्यूबिक हेयर को निकालते रहें। इस तरह आपको पसीने के कारण आने वाली गंध और इंफेक्‍शन से छुटकारा मिलेगा।

कॉटन पैंटी ना केवल पहनने में आरामदायक होती हैं, बल्कि यह इंटीमेट हाइजीन के लिए भी जरूरी है। क्‍योंकि यह जल्‍दी ही सूख जाती है। इससे अनहेल्‍दी बैक्‍टीरिया और यीस्‍ट के विकास को रोकने में मदद मिलती है।

No comments