सरकारी नौकरी

अगर पेशाब रुकने की समस्या से है परेशान तो अपनाएं ये देसी इलाज


कई बार पेशाब रुकने की समस्या देखने को मिलती है। आप चाह कर भी पेशाब नहीं कर पाते और पेशाब करते समय बहुत वेदना और कष्ट होता है। इसे पेशाब रुकना केहते है। इस समस्या में डॉक्टर इलाज नहीं करना चाहिए। नीचे दिए गए उपचार करके भी आप इसको समस्या पर काबू पा सकती हो।

पेशाब रुकने की समस्या का उपचार :

धनिया: हरे धनिया की पत्तियों का रस दो तोले और एक तोला शक्कर मिलाकर दे।  एक बार देने से कोई लाभ नहीं हो तो दोबारा दे। ऐसा करने से पेशाब खुलकर आता है।

प्याज: 1 किलो पानी में 45 ग्राम प्याज के टुकड़े डालकर उबाले। इसे छानकर शहद मिलाकर रोजाना तीन बार पिलाने से पेशाब खुलकर आता है। बार-बार पेशाब आना ठीक हो जाता है।


दूध: गर्म दूध में गुड़ मिलाकर पीने से मूत्राशय के रोगों में लाभ होता है। पेशाब साफ और खुलकर आता है। पेशाब की रुकावट दूर होती है। यह रोजाना एक गिलास दो बार पिए।

मूली: गुर्दे की खराबी से यदि पेशाब बनना बंद हो जाए तो मूली का रस दो औस प्रति मात्रा पीने से वह फिर से बनने लगता है। 2 औंस मूली का रस पिलाने से पेशाब के समय होने वाली जलन और वेदना मीट जाती है।

जीरा: जीरा और चीनी दोनों को समान मात्रा में पीसकर दो चम्मच तीन बार फंकी लेने से रुका हुआ पेशाब खुल जाता है।


शलगम: पेशाब रुक रुक कर आने पर एक शलगम और मूली कच्ची ही काटकर खानी चाहिए। मूली का रस भी पी सकते हैं। ऐसा करने से पेशाब खुलकर आता है।

No comments