सरकारी नौकरी

loading...

सेक्स के दौरान आप ट्राई कर सकती है 'पुल आउट मेथड', जल्दी मिलेगी संतुष्टि


आजकल हर कोई सेफ सेक्स करना चाहता है। अगर आप कंडोम का इस्तेमाल नहीं करना चाहते या हार्मोन पर असर पड़ने के कारण पिल्स भी लेना पंसद नही करते तो पुल-आउट मेथड एक ही तरीका बच जाता है। अनचाहे प्रेगनेंसी को रोकने के लिए ही ये तरीका है। लेकिन इस मेथड को बहुत कम भरोसा किया जा सकता है।

पुल आउट मेथड:

इस तरीके में पुरूष जल्दी नहीं निकाल पाते हैं जिसके कारण सीमेन से भरे स्पर्म की कुछ बूंद चले जाना का खतरा रह ही जाता है। इसलिए मेल पार्टनर को न सिर्फ इजाक्युलेट करने के पहले पुल आउट करना चाहिए वरन् इजाक्युलेट भी जेनिटेल एरिया के बाहर करना चाहिए।


इसमें त्वचा से त्वचा का संपर्क तो होता ही है. यहां तक कि प्री-इजाक्युलेशन के दौरान सिफिलिस, क्लामेडिया और गोनोरिया के होने की संभावना ज्यादा रहती है।

पुल आउट मेथड असरदार गर्भनिरोधक तरीका नहीं है लेकिन इसकी अच्छी बात ये है कि बैक्टिरीयल वैगनोसिस जैसे वैजाइनल इंफेक्शन होने का खतरा इस मेथड को आजमाने से कम किया जा सकता है।


No comments