सरकारी नौकरी

loading...

पूजा में कौन से भगवान को कौन से फूल चढ़ाएं, जान लें बात


देवताओं को फूल चढाने से जल्दी प्रसन्न हो जाते है। हिन्दू पूजा-पाठ की रीतियों के अनुसार भगवान की पूजा-अर्चना के लिए उनके चरणों में कुछ अर्पण करना पड़ता है। भले ही कितने सोने-चाँदी के जवाहरात पावँ में रख दो उनके, भगवान को तो बस सच्ची श्रद्धा चाहिए आपकी। ऐसे में अगर फूल भी उनके क़दमों में रखे जाएँ तो वो ख़ुशी-ख़ुशी स्वीकार कर लेंगे।

कौन से भगवान को कौन से फूल चढ़ाएं:

# श्री गणेश: गणपति बप्पा को हर किस्म के फूल पसंद हैं सिवाए तुलसी के! बस तुलसी उन्हें अर्पण ना करें और कुछ ख़ास करना ही है तो दूब अर्पण करें और उस में भी अगर दूब की फुनगी में 3 या 5 पत्तियाँ हों तो फिर बात ही क्या है।

# शिव जी: भगवान शिव की पसंद बड़ी ही सरल है। आप उनके चरणों में चमेली, श्वेत कमल, शमी, धतूरा, खस, गूलर, पलाश, बेलपत्र, केसर, पाटला या नागचंपा चढ़ा सकते हैं।

# भगवान विष्णु: गणपति बप्पा से बिलकुल विपरीत, भगवान विष्णु को तुलसी बेहद पसंद है। चाहे काली तुलसी हो या गौरी तुलसी, दोनों ही उनकी पसंदीदा हैं।

# बजरंग बली: बजरंग बली का डील-डौल देख कर लगता होगा कि क्या प्रभु फूलों में दिलचस्पी रखते होंगे? जी हाँ, रखते हैं और ख़ास तौर पर लाल फूलों का उन्हें शौक़ है।

# सूर्य भगवान: भगवान सूर्य को कई फूल चढ़ा सकते हैं लेकिन सबसे ख़ास है आक का फूल। कहते हैं एक आक का फूल चढ़ा दिया तो सोने की 10 अशर्फ़ियों जितना फल मिलता है।

# पार्वती माँ: आम तौर पर जो फूल शिव जी को पसंद हैं, वही फूल माँ पार्वती को भी अर्पित किये जा सकते हैं। सभी लाल फूल और ख़ास तौर पर सफ़ेद सुगन्धित फूल माँ पार्वती के चरणों में चढ़ाये जाने चाहिएँ।

No comments