सरकारी नौकरी

loading...

कुछ मिनटों में अयोध्या फैसला, जयपुर में इंटरनेट के साथ स्कूल, कॉलेज भी रहेंगे बंद!!


अयोध्या मामले पर फैसले को देखते हुए जयपुर में शनिवार सुबह 10 बजे से अगला आदेश आने तक इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। अधिकारियों का कहना है कि यह कदम इसलिए उठाया गया है ताकि शरारती तत्व इंटरनेट के माध्यम से गलत और संवेदनशील संदेश न फैला सकें।

पुलिस आयुक्त आनंद श्रीवास्तव के अनुसार, "सोशल मीडिया पर निगरानी रखी जा रही है।घृणा भरे संदेश फैलाने वाले व्हाट्सएप ग्रुप की पहचान कर ली गई है, और उन्हें डिलीट किया जा रहा है। वहीं घृणा फैलाने वाले संदेशों के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी।"

जयपुर कमिश्नरेट और जयपुर ग्रामीण में धारा 144 लगा दी गई है, और संवेदनशील क्षेत्रों में भारी पुलिस बल की नियुक्ति की गई है। इसके साथ ही करीब 1.5 लाख पुलिस जवानों को सतर्क रहने को कहा गया है।


क्षेत्रों पर निगरानी बनाए रखने के लिए पुलिस मुख्यालय में कंट्रोल रूम बनाया गया है, जहां से 33 जिलों के करीब 4,000 सीसीटीवी कैमरों पर निगरानी रखी जाएगी।

इसी बीच राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी लोगों से शांति और सांप्रदायिक सौहार्द बनाए रखने की विनम्र अपील की है।

उन्होंने ट्वीट किया, "जैसा की आज अयोध्या मामले पर फैसला आएगा, मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे शांति और सौहार्द बनाए रखें। सांप्रदायिक सौहार्द हमारी परंपराओं में से एक है।"


उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, "हमारी सरकार आसपास शांति बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है और जिला कलेक्टर और जिला पुलिस आयुक्त को संयुक्त रूप से तालमेल बनाकर साथ काम करने और किसी भी अप्रिय घटना को लेकर सतर्क रहने की जिम्मेदारी दी गई है।"

No comments