सरकारी नौकरी

loading...

'चल जीत ले ये जहां' में मुख्य भूमिका में नजर आएंगे पैराएथलीट सुंदर


विश्व पैराएथलेटिक्स चैंपियनशिप में अपना खिताब बचाने वाले भाला फेंक पैरा एथलीट सुंदर सिंह गुर्जर अब 'चल जीत ले ये जहां' में मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। 'चल जीत ले ये जहां' भारतीय पैरा क्रिकेटरों के वास्तविक जीवन पर आधारित फिल्म है। गुर्जर ने हाल में दुबई में आयोजित विश्व पैरा चैंपियनशिप में भाला फेंक स्पर्धा में पहला स्थान हासिल किया है।

'चल जीत ले ये जहां' ओशिम खेत्रपाल द्वारा प्रदर्शित फिल्म है। खेत्रपाल का मानना है कि गुर्जर द्वारा विश्व पैराएथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतना फिल्म के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है।

उन्होंने कहा, "हम बहुत खुश हैं कि हमारे प्रयास से वे अपने जीवन के सबसे बड़े परिणाम हासिल करने में सक्षम हैं। वे हम जैसे सामान्य लोगों की तुलना में अपने वास्तविक जीवन में दोगुना तीनगुना ज्यादा मेहनत करते हैं, इसलिए वे उतना ही नाम और ख्याति पाने के लायक हैं और इस फिल्म के माध्यम से हम ऐसा ही करने की कोशिश कर रहे हैं।"

No comments