सरकारी नौकरी

loading...

अगर इस दिन मंदिर में चोरी हो जाएँ आपके जूते तो समझ लें खुल गई आपकी किस्मत


आजकल चोरी होना आम बात है लेकिन मंदिर में जूते-चप्पल चोरी हो जाना शुभ माना जाता है। ना केवल मंदिर, बल्कि कई धार्मिक स्थलों पर आए हुए भक्तों के साथ ऐसा हो जाता है। लेकिन पुरानी मान्यताओं के अनुसार जूते चप्प्ल का चोरी होना एक शुभ संकेत है विशेष रूप से यदि यह घटना मंदिर में घटे तो और भी अच्छा है और यदि संयोग से उस दिन शनिवार हो तो बहुत ही उत्तम रहता है।

इस दिन चोरी हो जाएँ आपके जूते:

ऐसा माना जाता है की पैरों में शनि ग्रह का प्रभाव रहता है ऐसे में यदि शनि की साढ़ेसाती या ढैय्या चल रही हो तो शनि ग्रह के दुष्प्रभाव और भी बढ़ जाते हैं तब ज्योतिष किसी मंदिर में या जरूरतमंद व्यक्ति को अपनी पहनी हुई या नयी चप्पल या जूते दान करने की सलाह भी देते हैं।


कष्टों से मिल जाती है मुक्ति:

चप्पल या जूते शनिवार के दिन मंदिर में दान देने से या चोरी हो जाने से शनि द्वारा होने वाले कष्टों और अन्य बुरे प्रभावों से मुक्ति मिलती है। अतः मंदिर में जूते चप्पल चोरी होने पर दुःखी नहीं बल्कि खुश हो जाए क्योंकि यह एक शुभ संकेत है जो बताता है की आपके जीवन में शनि द्वारा आने वाली बाधाएं अब कम हो जाएंगी।

No comments