सरकारी नौकरी

loading...

रात में सोते समय गीली क्यों हो जाती है लड़कियों की वैजाइना और पैंटी, ये है कारण


अक्सर युवा अवस्था में स्वपनदोष की समस्या ज्यादा अपना चरम रूप ले लेती है। स्‍वप्‍नदोष एक ऐसी अवस्‍था है, जिसमें सोते-सोते अचानक उत्तेजनावश होकर पुरुष के लिंग से वीर्य अपने आप निकल जाता हैं। जिससे अण्डर गारमेंट्स गीले हो जाते हैं। लेकिन शायद बहुत कम लोग ही इस बात को जानते होंगे कि लड़कियों की पैंटी भी रात में सोते समय गीली होने की शिकायत पाई गई है। वे भी स्वप्न दोष की शिकार होती है।

गीली क्यों हो जाती है वैजाइना:

लड़कियों को वैसे इस अवस्था का एहसास कम ही होता हैं क्योंकि महिलाओं का जननांग अंदर की ओर विकसित और सिकुड़ा हुआ रहता है। वे इस अवस्था से तब गुजरती है जब उनमें तीव्र यौन इच्छा होती है। किशोरावस्‍था, युवावस्‍था या फिर पति से बहुत अधिक दिनों तक दूर रहने पर कई बार महिलाओं में तीव्र यौन इच्‍छा जाग जाती हैं, तथा सोते-सोते एक बैचेनी के साथ वे उठती हैं एवं उनकी योनि अंदर से गीली और चिकनी हो जाती है।


ये है वैजाइना गीली होने के कारण:

स्वप्नदोष के और भी अन्य कई कारण हो सकते हैं जैसे सोते वक्‍त कई बार जननांग या उसके आसपास दबाव पड़ने से एक अजीब सा एहसास होता है। सोते वक्‍त हाथ से उत्‍पन्‍न घर्षण से महिला में उत्तेजना आ जाती हैं।


No comments