सरकारी नौकरी

loading...

तेजस ट्रेन की होस्टेस के लिए मुसीबत बने ‘सेल्फीबाज’, सुरेलवे ने उठाया ये कदम


तेजस एक्सप्रेस भारत की पहली निजी रेल सेवा है। आईआरसीटीसी ने तेजस को रेलवे से लीज पर लिया है और इसका कमर्शियल रन किया जा रहा है। तमाम खूबियों वाली तेजस की एक विशेषता ये भी है कि इस ट्रेन में हवाई जहाज़ की भाँति महिला अटेंडेंट यानी ट्रेन होस्टेस की व्यवस्था की गई है। तेजस में कुल 45 होस्‍टेस हैं, जो यात्रियों की खाने-पीने और अन्य आवश्यकताओं को पूरा करती हैं।

सेल्फी लेने के लिए दीवाने है लोग:

लेकिन कुछ यात्री ट्रेन होस्टेस के साथ सेल्फी लेने के लिए इतने दीवाने हो चुके हैं कि अपनी सीमा तक पार कर जाते हैं। पीले-काले रंग के खबसूरत कॉम्बिनेशन और चुस्त पौशाक में सजी-संवरी इन बालाओं के साथ सेल्फी लेने की यात्रियों में होड़ मच जाती है।


करते है ऐसी हरकतें:

तेजस एक्सप्रेस में हर सीट के ऊपर एक कॉल बटन है जिसे दबाकर होस्टेस को बुलाया जा सकता है, परंतु कई बार लोग बेवजह ही ये कॉल बटन दबा देते हैं। सीने पर महिला सशक्तीकरण का बिल्ला लगाए ये लड़कियां पारंपरिक तौर पर पिछड़ी मानी जाने वाली आधी आबादी के लिए नई मिसाल भी पेश कर रही हैं।


रेलवे ने उठाये ये कदम:

आईआरसीटीसी (IRCTC) के चीफ रीजनल मैनेजर अश्वनी श्रीवास्तव का कहना है, “हमारी ट्रेन होस्टेस वेल ट्रेंड हैं, उनका खयाल रखना हमारी जिम्मेदारी है और इसीलिए हमने फीडबैक सिस्टम बनाया है। किसी परेशानी में फँसने पर वे इसका इस्‍तेमाल कर सकती हैं।

No comments