सरकारी नौकरी

loading...

क्या हैं नागरिकता संशोधन कानून और NRC, कौनसे दस्तावेज दिखाने होंगे!!


आजकल CAB और NRC के कारण माहौल गरमा हुआ है। नागरिकता संशोधन कानून और NRC के लिए जागरूकता अभियान चलाया जा रहा हैं तो कहीं विरोध प्रदर्शन किया जा रहा हैं। देश के कई हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन भी हो रहे हैं। हांलाकि प्रधानमंत्री ने कहा कि नागरिकता कानून से किसी भी भारतीय को नुकसान नहीं होगा।

नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB):

यह विधेयक नागरिकता अधिनियम 1955 में बदलाव करेगा। इस विधेयक के तहत बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान समेत आस-पास के देशों से भारत में आने वाले हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी धर्म वाले लोगों को नागरिकता दी जाएगी। नागरिकता संशोधन बिल में छह गैर-मुस्लिम समुदायों से संबंधित अल्पसंख्यक शामिल हैं।

एनआरसी (NRC) क्या है?

एनआरसी (NRC) असम में अधिवासित सभी नागरिकों की एक सूची है। राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) की वर्तमान सूची में शामिल होने के लिए व्यक्ति के परिजनों का नाम साल 1951 में बने पहले नागरिकता रजिस्टर में होना चाहिए या फिर 24 मार्च 1971 तक की चुनाव सूची में होना चाहिए।

जरूरी दस्तावेज:

इसके लिए अन्य दस्तावेजों में जन्म प्रमाणपत्र, शरणार्थी पंजीकरण प्रमाणपत्र, भूमि और किरायेदारी के रिकॉर्ड, नागरिकता प्रमाणपत्र, स्थायी आवास प्रमाणपत्र, पासपोर्ट, एलआईसी पॉलिसी, सरकार द्वारा जारी लाइसेंस या प्रमाणपत्र, बैंक या पोस्ट ऑफिस खाता, सरकारी नौकरी का प्रमाण पत्र, शैक्षिक प्रमाण पत्र एवं अदालती रिकॉर्ड होना चाहिए।

No comments