सरकारी नौकरी

loading...

सोशल मीडिया यूजर्स, टिकटॉकर्स ने चीनी एप पर बैन के फैसले का स्वागत किया


भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा मद्देनजर 59 चीनी एप पर प्रतिबंध लगा दिया, जिसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स, टिक टॉक यूजर्स ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया। जैसे ही शॉर्ट वीडियो मेकिंग एप गूगल प्ले स्टोर से हटाया गया, वैसे ही ट्विटर पर हैशटैग आरआईपी टिक-टॉक ट्रेंड करने लगा।

देशभर के लोग इस फैसले पर अपनी खुशी जाहिर करने के लिए मीम्स, फनी पोस्ट साझा कर रहे हैं। इस फैसले को फिल्मी जगत के लोगों ने भी स्वागत किया। मशहूर टेलीविजन स्टार काम्या शलभ दान ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, "बहुत सही, पीएमओ इंडिया बहुत अच्छी खबर। जय हिंद। चीनी सामान का बहिस्कार करें।"

इस बीच, देश में टिक-टॉक समुदाय ने भी अपना समर्थन दिखाया है और टिक-टॉक सहित 59 चीनी एप पर प्रतिबंध लगाने पर सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है।

सरकार ने सोमवार को राष्ट्रीय सुरक्षा मद्देनजर 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया क्योंकि पूर्वी लद्दाख में चीनी पीएलए सैनिकों के साथ गालवान घाटी में हुए संघर्ष में 20 भारतीय सैनिकों की मौत हो गई, जिसके बाद दोनो देशो में तनाव बना हुआ है। चीनी एप बैन की सूची में, क्लब फैक्ट्री, शेयरइट, लाइकी, एमआई वीडियो कॉल, बिगो लाइव आदि एप शामिल हैं।

No comments