सरकारी नौकरी

loading...

राजस्थान सरकार ने कोविड -19 टेस्ट शुल्क 2,200 रुपये किया, अधिक शुल्क लेने पर कार्रवाही के आदेश


राजस्थान सरकार ने निजी लैब में कोविड-19 टेस्ट शुल्क को 3500-4500 रुपये से घटाकर 2,200 रुपये कर दिया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में कोविड-19 से लड़ने के लिए किए गए उपायों की समीक्षा करने के लिए शुक्रवार देर रात एक बैठक बुलाई थी, जिसमें यह निर्णय लिया गया।

गहलोत ने दो घंटे की बैठक में घोषणा की कि प्रति बेड की अधिकतम शुल्क राशि 2,000 रुपये होगी, जबकि वेंटिलेटर वाले बिस्तर की कीमत 4,000 रुपये होगी।

गहलोत ने यह भी स्पष्ट किया कि सरकार मरीजों से अधिक भुगतान लिए जाने जैसे किसी भी तरह का शोषण बर्दाश्त नहीं करेगी।

मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का आदेश दिया कि निजी अस्पताल अत्यधिक शुल्क न लें।

गहलोत ने बैठक में मौजूद अधिकारियों को आदेश दिया, "आपको उल्लंघन के मामले में महामारी अध्यादेश सहित कानून की विभिन्न धाराओं के तहत उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई शुरू करनी चाहिए।"

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, "हालांकि लॉकडाउन समाप्त हो गया है, लेकिन कोरोना संकट अभी भी जारी है। इसलिए, हर किसी को सावधान रहना चाहिए और बाहर जाते समय मास्क पहनना चाहिए और सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए।"

No comments