सरकारी नौकरी

loading...

मध्यप्रदेश में कांग्रेस विधायक विधानसभा से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल


मध्यप्रदेश में कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस की विधायक सुमित्रा देवी कास्डेकर ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गईं। बुरहानपुर जिले के नेपानगर विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित विधायक सुमित्रा देवी ने शुक्रवार की दोपहर में विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने उनका इस्तीफा मंजूर भी कर लिया। उसके बाद सुमित्रा देवी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचकर मुलाकात की और भाजपा दफ्तर में पहुंचकर पार्टी की सदस्यता ली।

उन्होंने पार्टी के दफ्तर में प्रदेशाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, मंत्री अरविंद भदौरिया और मंत्री मोहन यादव की उपस्थिति में सदस्यता ग्रहण की। सभी नेताओं ने उनका स्वागत किया और भरोसा दिलाया कि उनके क्षेत्र के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने सुमित्रा देवी से अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने को कहा। उसके बाद भी सुमित्रा देवी का यही कहना था कि उन्होंने अपनी सदस्यता से इस्तीफा दिया है, जिसे स्वीकार किया जाए, इसलिए उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है।

ज्ञात हो कि राज्य में पिछले दिनों कांग्रेस के तत्कालीन 22 विधायकों ने सदस्यता से इस्तीफा देकर भाजपा का दामन थाम लिया था। इससे कांग्रेस की सरकार गिर गई थी। छतरपुर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक प्रद्युम्न सिंह लोधी भी विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देकर भाजपा का दामन थाम चुके हैं। शिवराज सरकार ने उन्हें नागरिक आपूर्ति निगम का अध्यक्ष बनाया है।

लोधी के कांग्रेस छोड़ने के बाद से लगातार इस बात की चर्चा थी कि कुछ और कांग्रेस के विधायक सदस्यता से इस्तीफा दे सकते हैं। इसी बीच नेपानगर की विधायक सुमित्रा देवी ने इस्तीफा दे दिया। इस तरह कांग्रेस के इस्तीफा देने वाले विधायकों की संख्या 24 हो गई है। आगामी समय में अब 26 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव होना तय है।

No comments