सरकारी नौकरी

loading...

राजस्थान कांग्रेस विधायक दल की बैठक, कांग्रेस ने विधायकों को दिया कड़ा संदेश

राजस्थान कांग्रेस सरकार पर आया संकट का समय आखिर टल गया है। कांग्रेस ने राजस्थान में अपने विधायकों को कड़ा संदेश देने की कोशिश की है। कांग्रेस ने अपने संदेश में पार्टी का स्थान सर्वप्रथम बताते हुए किसी को भी मीडिया में कोई बयान, साक्षात्कार देने की मनाही की है। कांग्रेस विधायक दल की बैठक गुरुवार को मुख्यमंत्री निवास पर बुलाई गई थी। बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी मौजूद थे।

कांग्रेस विधायक दल की बैठक:

कांग्रेस महासचिव (संगठन) के.सी. वेणुगोपाल ने एक वीडियो में कहा कि पिछले 30 दिनों के बुरे सपने को भूल जाओ और राजस्थान के लोगों के लिए मिलकर काम करो। हमने बहुत पोस्टमार्टम किए हैं, लेकिन अब से कोई शब्द, कोई साक्षात्कार और कोई बयान नहीं है। यह संदेश कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी का है। उन्होंने मुझे यह बताने के लिए कहा।

वेणुगोपाल ने कहा कि पार्टी का स्थान सबसे पहले है और अगर पार्टी नहीं है तो कोई भी नहीं होगा, इसलिए सभी को एकता के साथ काम करना होगा। यह एकता का समय है और हर किसी को एक साथ काम करना चाहिए।

No comments