सरकारी नौकरी

loading...

रिपोर्ट: कोरोना से मरने वालों में हृदयरोग से ग्रसित लोगों के मरने की आशंका ज्यादा

अक्सर कोरोना को लेकर रोज नई रिपोर्ट और रिसर्च सामने आ रही है। जिनमे कई तरह की चीजों का ख्याल रखने की सलाह भी दी जाती है। ऐसे कोविड-19 रोगी जो हृदय रोग से ग्रसित हैं या जिनमें हृदय रोग होने का जोखिम है, उनके मरने की आशंका अधिक है। यह बात बड़े पैमाने पर हुए एक अध्ययन में सामने आई है।

हृदयरोग से ग्रसित लोगों के मरने की ज्यादा आशंका:

पीएलओएस वन जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, हृदयरोग से ग्रसित कोविड-19 रोगियों का इलाज करने के दौरान चिकित्सकों को इनके जोखिम कारकों को समझना कठिन रहा। इटली के मैग्ना ग्रेसेया विश्वविद्यालय के लेखकों ने कहा, ज्यादातर लोगों के लिए कोरोनावायरस रोग हल्की बीमारी का कारण बनता है, हालांकि, यह गंभीर निमोनिया पैदा कर सकता है और कुछ लोगों में मृत्यु का कारण बन सकता है।

इस अध्ययन में शोध टीम ने एशिया, यूरोप और अमेरिका में कुल 77,317 अस्पताल में भर्ती मरीजों कोविड -19 रोगियों पर प्रकाशित 21 अवलोकन संबंधी अध्ययनों के आंकड़ों का विश्लेषण किया है।

इसमें पाया गया कि जिस समय रोगियों को अस्पताल में भर्ती कराया जाता था, उस समय 12.89 प्रतिशत रोगियों में हृदय संबंधी परेशानियां, 36.08 प्रतिशत को उच्च रक्तचाप और 19.45 प्रतिशत को मधुमेह था।

अध्ययन के लेखक ने कहा, कोविड -19 रोगियों में हृदय संबंधी जटिलताएं आम हैं और यह मृत्यु दर बढ़ाने में योगदान दे सकती हैं।

No comments