सरकारी नौकरी

loading...

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ब्रेन सर्जरी के बाद वेंटिलेटर पर, कोरोना वायरस से है संक्रमित


देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत ब्रेन सर्जरी के बाद गंभीर है। उनके मस्तिष्क में एक थक्का (Clot) था, जिसे निकालने के लिए मुखर्जी का ऑपरेशन किया गया है। आज दोपहर को अस्पताल के मेडिकल बुलेटिन में यह बात कही गई। प्रणब मुखर्जी कोरोना वायरस से भी संक्रमित पाए गए हैं। 84 वर्षीय प्रणब मुखर्जी दिल्ली में आर्मी हॉस्पिटल रिसर्च एंड रेफरल में वेंटिलेटर पर हैं।

मस्तिष्क की सर्जरी के बाद वेंटिलेटर पर:

अस्पताल की ओर आज जारी बुलेटिन में कहा गया, "भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को 12 बजकर 07 मिनट पर दिल्ली कैंट स्थित आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्पताल में जांच करने पर उनके दिमाग में एक क्लॉट होने की जानकारी मिली, जिसके लिए उनकी सर्जरी की गई है। सर्जरी के बाद उनकी हालत गंभीर बनी हुई है और वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं।"

पूर्व राष्ट्रपति ने कल अपने ट्वीट में कहा, "वह एक अलग प्रक्रिया के तहत अस्पताल आए हैं और उनका कोरोना टेस्ट पॉज़िटिव आया है। उन्होंने पिछले हफ्ते में उनके संपर्क में आए लोगों से खुद को आइसोलेट करने और COVID-19 टेस्ट करने का आग्रह किया।"

No comments