सरकारी नौकरी

loading...

लोगों के दिलों में छुरी उतार देता है सपना चौधरी का ये कातिल देसी स्वैग, देखें तस्वीरें


हरियाणा की मशहूर सपना चौधरी एक सामान्य डांसर से बॉलीवुड का सफर तय कार चुकी है। साल 2008 में सपना के पिता भूपेंद्र अत्रि का लम्बी बीमारी से देहांत हो गया था, तब वह महज 18 साल की थी। पिता की मृत्यु के बाद अपने परिवार की जिम्मेदारियों को संभाले लिए उन्होंने अपने शौक “नृत्य” और “गायन” को अपना व्यवसाय बना लिया।


इस कला के माध्यम से ही वो पूंजी और शोहरत कमा रही है। इसके साथ ही फिल्मों में भी वह काम कर रही है।सपना ने अपने करियर की शुरुआत हरियाणा के एक ऑर्केस्ट्रा टीम के साथ की थी। सपना चौधरी ने अपने करियर की शुरुआत रागनी कलाकारो के साथ टीम का हिस्सा बनकर की थी।


सपना शुरुआत में हरियाणा में और आस पास के राज्यों में रागनी प्रोग्रामो में रागनी पार्टियों के साथ हिस्सा लेती थी। उसके बाद सपना ने स्टेज डांस करना शुरू किया। सपना ने एक हरियाणवी गाने गाने 'सॉलिड बॉडी रै' पर मोर म्यूजिक कम्पनी से रिलीज हुए गाने पर डांस किया वो वीडियो हिट रहा।


सपना को हरियाणा के साथ अन्य प्रदेशो में भी पहचान मिली। उन्होंने 20 से अधिक गानों में अपनी आवाज दी है। सपना जर्नी ऑफ भांगओवर में आइटम नंबर से बॉलीवुड में डेब्यू किया। इसके बाद सपना वीरे की वेडिंग फिल्म के सॉन्ग 'हट जा ताऊ' में नजर आई थीं।


अभय देयोल स्टारर फिल्म नानू की जानू में सपना ने अहम किरदार निभाया और 'तेरे ठुमके सपना चौधरी' नामक एक आइटम नंबर भी किया है।


No comments