सरकारी नौकरी

loading...

ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस स्नैपडील ने घरों तक डिलीवरी के लिए किया रोबोट परीक्षण

हाल ही में कोरोना के चलते स्नैपडील के एक प्रवक्ता ने अपने एक बयान में कहा, हम भविष्य में उन्मुख क्षमताओं को विकसित करने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निग में भारी निवेश कर रहे हैं। रोबोट के माध्यम से डिलीवरी लॉजिस्टिक्स के विकसित भविष्य का हिस्सा है और हम इन तकनीकों का परीक्षण करने के लिए ओटोनॉमी आईओ के साथ साझेदारी करने के लिए उत्साहित हैं।

डिलीवरी के लिए किया रोबोट परीक्षण:

महामारी के बीच उपभोक्ताओं की सुरक्षा चिंताओं को दूर करने के लिए ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस स्नैपडील ने ऑटोनॉमस मोबिलिटी स्टार्टअप ओटोनॉमी आईओ द्वारा विकसित रोबोट का उपयोग करते हुए पैकेटों की अंतिम-मील डिलीवरी का परीक्षण किया है।

दोनों कंपनियों ने मंगलवार को कहा कि भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में नेविगेट करने के लिए रोबोट विशेष आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) एल्गोरिदम का उपयोग करते हैं। वे फुटपाथ और स्थानीय सड़कों पर भी बड़ी आसानी से आवागमन कर सकते हैं।

ये रोबोट मशीन लर्निग का उपयोग करते हैं और 3-डी लिडार एवं कैमरों के फ्यूज डेटा का उपयोग करते हुए बाहरी दुनिया के बारे में अच्छी समझ रखते हैं।

ऐसे रोबोट करता है काम :

एक बार जब डिलीवरी रोबोट दरवाजे पर आता है, तो ग्राहक को अलर्ट मिलता है। उपयोगकर्ता को भेजे गए एक यूनीक क्यूआर कोड के माध्यम से रोबोट के होल्ड एरिया को अनलॉक किया जा सकता है और ग्राहक उनके ऑर्डर को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

डिलीवरी रोबोट एक बार में कई ऑर्डर अपने साथ रख सकते हैं, इसलिए ग्राहक द्वारा उपयोग किया जाने वाला क्यूआर कोड केवल विशिष्ट पैकेज होल्ड क्षेत्र को अनलॉक करता है, जिसमें उपयोगकर्ता द्वारा दिया गया ऑर्डर होता है। यानी रोबोट के पास कई लोगों का सामान होने की स्थिति में भी क्यूआर कोड के माध्यम से हर ग्राहक के पास उसके द्वारा ऑर्डर किया गया सामान बिना किसी परेशानी के पहुंच जाएगा।

No comments